भागवत ने कहा एक कार सेवा से राम मंदिर निर्माण नहीं होगा, संतो ने मचाया हंगामा

0
104
भागवत की सभा में संतो ने मचाया हंगामा,बोले- 'तारीख बताओ'
भागवत की सभा में संतो ने मचाया हंगामा

कुंभ में चल रही धर्म संसद में शुक्रवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के भाषण के बाद वहां मौजूद लोगों ने जमकर हंगामा मचाया. लोगों ने भगवा झंडों को लहराते हुए राम मंदिर के जल्द निर्माण के पक्ष में नारेबाजी की. दरअसल भगवत ने कहा कि एक कार सेवा से राम मंदिर निर्माण नहीं होगा. दम है तो कारसेवा करो. अगर दम नहीं है तो सम्मानजनक तरीके से वापस जा सकते हैं. संघ मंदिर के लिए ताकत देगा. अयोध्या में सिर्फ भव्य राम मंदिर बनेगा. भागवत के धर्म संसद में भाषण दिए जाने के बाद संतों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. धर्म संसद में करीब दो दर्जन से ज्यादा संतों ने ‘तारीख बताओ, तारीख बताओ’ के नारे लगाना शुरू कर दिया.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर भागवत ने कहा कि यह मामला ”निर्णायक दौर” में है, मंदिर बनने के किनारे पर है इसलिए हमें सोच समझकर कदम उठाना पड़ा. उन्होंने यह भी कहा कि जनता में प्रार्थना, आवेश और जरूरत पड़ी तो ”आक्रोश” भी जगाया जाना चाहिए. धर्म संसद को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा, “देश की दिशा भी इस उपक्रम में भटक न जाए, इसे भी ध्यान में रखेगा.” मोहन भागवत ने कहा, ”इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ के फैसले से यह साबित हो गया था कि ढांचे के नीचे मंदिर है. अब हमारा विश्वास है कि वहां जो कुछ बनेगा वह भव्य राम मंदिर बनेगा और कुछ नहीं बनेगा.”

मोहन भागवत ने कहा कि हमारी मांग है कि रामजन्मभूमि स्थल पर एक भव्य राम मंदिर बनाया जाए. यह देखना सरकार के लिए है कि वे यह कैसे सुनिश्चित करते हैं. यदि वे ऐसा करते हैं, तो उन्हें भगवान राम का आशीर्वाद मिलेगा. हम सहमत हैं कि राम मंदिर पर सरकार की मंशा स्पष्ट है. मंदिर निर्माण शुरू होगा. मोहन भागवत ने कहा कि मंदिर बनने के साथ-साथ हमें यह भी देखना चाहिए कि मंदिर कौन बनाएगा और मंदिर केवल वोटरों को खुश करने के लिए नहीं बनाएंगे, राजनीतिक उठापटक कुछ भी हो जनता का मन है कि राम मंदिर बनेगा, तो बनेगा ही बनेगा. उन्होंने कहा कि सरकार ने कोर्ट में जाकर अपनी मंशा साफ कर दी है.