यू.पी. के रामनाथ कोविंद रिकॉर्ड जीत के साथ बने देश के 14वे राष्ट्रपति

96
307
ramnath kovind become 14th president of india
ramnath kovind become 14th president of india

राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को 7 लाख 2 हजार 44 वोट और विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को 3 लाख 67 हजार 314 वोट मिले. कोविंद को यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार से करीब दोगुने वोट मिले हैं. इस जीत के साथ ही रामनाथ कोविंद देश के देश के 14वें राष्ट्रपति चुने गए.रामनाथ कोविंद को कुल वोट 10,98903 में से 702044 मिले हैं जबकि राष्ट्रपति बनने के लिए कोविंद को सिर्फ 5,52,243 वोट चाहिए थे.

रिकॉर्ड मतों से जीत के बाद रामनाथ कोविंद मीडिया के सामने आ कर बोले की ये उनके लिए बहुत ही भावुक छड़ है, जिन सभी सांसदों और विधायकों ने मुझ पर विश्वास दिखाया है मै उन् सबका आभारी हु.राम नाथ कोविंद ने कहा, ”आज दिल्ली में सुबह से बारिश हो रही है. ये बारिश मुझे मेरे बचपन की याद दिला रही है. मैं अपने पैतृक गांव में रहता था, घर कच्चा था मिट्टी की दीवारें थीं. फूस की छत थी जिससे पानी टरकता था. उस वक्त हम सब भाई बहन दीवारे के सहारे खड़े होकर इंतजार करते थे की बारिश कब बंद होगी”. कोविंद ने कहा, ”आज देश में कितनी राम नाथ कोविंद होंगे जो खेत में काम कर रहे होंगे और पसीना बहा रहे होंगे. मुझे उन लोगों से कहना है कि परौंख गांव का रामनाथ कोविंद उन्हीं का प्रतिनिधि बनकर जा रहा है. इस पद पर चुना जाना ना मैंने कभी सोचा था और ना कभी ऐसा लक्ष्य था. अपने सामज और देश के लिए अथक सेवा भाव मुझे यहां तक लाया है. मैं देश को विश्वास दिलाता हूं कि मैं संविधान की रक्षा करूंगा.” देश के सभी दलों का और जनता का एक बार फिर से आभार .

25  जुलाई को रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति पद की शपत लेंगे. जीत के बाद से ही  रामनाथ कोविंद को शुभकामनाये मिलने की झड़ी सी लग गयी है जिसमे सबसे पहले पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने ट्वीट कर रामनाथ कोविंद को बधाई दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को बधाई दी है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने बधाई देते हुए कहा की “हमारे लिए ये गौराव का क्षण है. उत्तर प्रदेश ने देश को राष्ट्रपति दिया है. इससे पहले उत्तर प्रदेश को प्रधानमंत्री दिया. आज उत्तर प्रदेश के 202 करोड़ लोगों को गर्व हो रहा है. रामनाथ कोविंद जी ने अपने प्रचार अभियान की शुरुआत उत्तर प्रदेश से की थी. मैं उनसे अनुरोध करूंगा कि शपथ ग्रहण के बाद वे अपना पहला कार्यक्रम उत्तर प्रदेश में ही करें.”

Comments are closed.