मेरे जेहन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जुड़ाव की खूबसूरत यादें रहेंगी – प्रणव मुखर्जी

1646
2787
pranab mukherjee farewell in parliament
pranab mukherjee farewell in parliament

भारत के 13वे राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को विदाई देने के लिए संसद के सेंट्रल हॉल में कार्यक्रम में उन्हें विदाई देने प्रधानमंत्री समेत कई लोग शामिल हुए. इस कार्यक्रम में शामिल हुए लोगो में प्रधानमंत्री मोदी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी और सरकार के मंत्री और दोनों सदनों के सांसद मौजूद रहे.

प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल बतौर राष्ट्रपति कभी किसी विवाद में नहीं आया. उनके कार्यकाल के कार्यकाल के शुरू के 2 साल केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी. लेकिन 2014 के चुनाव में जित के बाद केंद्र में बीजेपी की सरकार आ गयी. प्रणब दा ने अपने कार्यकाल का तीन साल मोदी सरकार के साथ गुजारा लेकिन कभी राष्ट्रपति और सरकार के बीच टकराव की स्थिति नहीं आई.

सोमवार को प्रणब मुखर्जी के कार्यकाल का आखिरी दिन है.कार्यक्रम के दौरान लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने अपने भाषण में प्रणव मुखर्जी के व्यक्तित्व के बारे में बताते हुए कहा कि प्रणब मुखर्जी ने हर क्षेत्र में अपनी छाप छोड़ी.

उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने प्रणब मुखर्जी की तारीफ करते हुए कहा कि राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर राष्ट्रपति मुखर्जी के विचारों ने शीर्ष पद का कद बढ़ाया है. उपराष्ट्रपति ने कहा कि राष्ट्रपति से पहले आप विश्व के सर्वश्रेष्ठ विदेश मंत्री रहे. साथ में ही कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल में राष्ट्रपति के पद की प्रतिष्ठा और गरिमा बढ़ाई.

अंत में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने अपने विदाई भाषण में सभी संसद सदस्यों और सेंट्रल में मौजूद सभी गणमान्य लोगों का ऐसे भावपूर्ण विदाई देने के लिए धन्यवाद् किया. अपने भाषण के दौरान उन्होंने अपने 37 सालो के संसदीय कार्यकाल को याद करते हुए पूर्व पीएम इंदिरा गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, बीजेपी के वरिष्ठ सांसद लालकृष्ण आडवाणी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई अतीत के दूसरे कई बड़े नेताओं को याद किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र करते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा, ” मेरे जेहन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जुड़ाव की खूबसूरत यादें रहेंगी और उनका मेरे प्रति स्नेही और विनम्र व्यवहार मुझे हमेशा याद रहेगा.”

नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 25 जुलाई को शपथ लेंगे.25 जुलाई को रामनाथ कोविंद का राष्ट्रपति भवन में स्वागत किया जाएगा. इसी दिन रामनाथ कोविंद संसद भवन के सेंट्रल हॉल में शपथ ग्रहण करेंगे. वह भारत के 14वें राष्ट्रपति होंगे.

Comments are closed.