CBSE ने 10वीं के गणित और 12वीं के इकनॉमिक्स का पेपर किया रद्द

760
2021
CBSE ने 10वीं के गणित और 12वीं के इकनॉमिक्स का पेपर किया रद्द
CBSE ने 10वीं के गणित और 12वीं के इकनॉमिक्स का पेपर किया रद्द

CBSE ने 10वीं के गणित और 12वीं के इकनॉमिक्स का पेपर किया रद्द. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं के गणित और 12वीं के इकनॉमिक्स का पेपर रद्द कर दिया है. बोर्ड ने इन दोनों एग्जाम को दोबारा लेने का फैसला लिया है. सीबीएसई बोर्ड ने परीक्षा दोबारा लेने का फैसला पेपर लीक होने की खबरों के बाद किया है. हलाकि बोर्ड ने अभी इस बात की जानकारी नहीं दी है कि इन दोनों एग्जाम को किस दिन दोबारा करवाया जाएगा. बता दें कि 12वीं का इकनॉमिक्स का एग्जाम 27 मार्च को हुआ था, जबकि 10वीं का गणित का एग्जाम 28 मार्च को हुआ था. सीबीएसई के मुताबिक इस साल 10वीं की परीक्षा में 16 लाख, 38 हजार 428 स्टूडेंट्स और बारहवीं की परीक्षा में 11 लाख, 86 हजार, 306 स्टूडेंट्स रजिस्टर हुए.




दरसल सीबीएसई बोर्ड के पेपर लीक होने और परीक्षा से पहले ही सोशल मीडिया पर पेपर वायरल होने की शिकायतें सामने आ रही थीं. सीबीएसई ने पेपर ली की खबर को गलत बताया था और जांच करवाने का आदेश दिया था. पुलिस लीक होने को लेकर सामने आए मामलों की जांच कर रही है. लेकिन अब सीबीएसई बोर्ड एग्जाम को विवादों से दूर रखना चाहता था इसलिए दोनों एग्जाम को दोबारा लेने का फैसला लिया गया. सूत्रों के मुताबिक सीबीएसई बोर्ड जल्द से जल्द इस परीक्षा का आयोजन करेगा और अगले हफ्ते तक परीक्षा की तारीखों का ऐलान भी कर दिया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेपर लीक पर नाराजगी व्यक्त की है.




गौरतलब है कि इकोनॉमिक्स के पेपर से पहले अकाउंट्स के पेपर लीक होने की खबरें आई थीं, जिसपर सीबीएसई बोर्ड ने नोटिफिकेशन जारी कर लीक की खबरो को गलत बताया था. वही दूसरी तरफ मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सीबीएसई बोर्ड के पेपर लीक को रोकने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कड़े कदम उठाने की बात कही है. जावड़ेकर ने कहा कि सरकार दोबारा होने वाली परीक्षा में पेपर लीक से बचने के लिए एक सुरक्षित सिस्टम लाने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा कि आधा घंटे पहले एग्जामिनेशन सेंटर्स को इलेक्ट्रॉनिकली कोडेड पेपर भेजा जाएगा जो पासवर्ड से सुरक्षित होगा. सेंटर पर ही प्रिंट आउट निकालकर छात्रों को एग्जाम पेपर बांटा जाएगा



Comments are closed.