महंत नरेंद्र गिरी से अखिलेश यादव के मिलने से डरी योगी सरकार !

0
93
अखिलेश यादव को योगी सरकार ने प्रयागराज जाने से रोका

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ के वार्षिक कार्यक्रम में शिरकत करने जा रहे समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को लखनऊ हवाई अड्डे पर ही रोक दिया गया है। यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रयागराज नहीं जाने दिया जा रहा और लखनऊ एयरपोर्ट पर रोक दिया गया। मामले पर सफाई देते हुए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कानून-व्यवस्था की समस्या खड़ी होने की आशंका की वजह से अखिलेश को रोका गया है। इस खबर के फैलने के बाद विधान परिषद और विधानसभा दोनों जगह हंगामा शुरू हो गया जिसके बाद असेंबली को कल तक के लिये स्थगित करना पड़ा।

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के एक कार्यक्रम को लेकर सियासत तेज हो गई है। इस कार्यक्रम में चीफ गेस्ट के रूप में जा रहे अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि उन्हें यूपी की योगी सरकार ने लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक दिया है और प्रयागराज नहीं जाने दे रहे। अखिलेश यादव ने पूरे मामले पर नोट जारी कर बताया है कि उन्होंने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के लिए परमीशन मांगी थी जिसे सरकार के मना करने के बाद प्रोग्राम बदल दिया गया था और अब अखिलेश को प्रयागराज मे अखाड़े के महंत नरेंद्र गिरी से मिलने जाना था और प्रयागराज मे ही रहना था। लेकिन सरकार ने डर कर अखिलेश को जाने ही नही दिया।

लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने पर अखिलेश यादव ने नाराजगी जाहिर की है। अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य की सरकार इतनी डर रही है कि मुझे लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोका जा रहा है। यूपी सरकार के इस कदम की सपा- बसपा समेत कांग्रेस ने भी भारी आलोचना की है। विपक्ष ने ये भी कहा है कि इस मुद्दे को लेकर प्रदेश भर में प्रदर्शन किया जाएगा। मायावती ने ट्वीट कर कहा कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को आज इलाहाबाद नहीं जाने देने कि लिये उन्हें लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक लेने की घटना अति-निन्दनीय व बीजेपी सरकार की तानाशाही व लोकतंत्र की हत्या की प्रतीक।