यूपी-उत्तराखंड में जहरीली शराब से अब तक 82 लोगों की मौत

0
121
यूपी-उत्तराखंड में जहरीली शराब से अबतक 82 लोगों की मौत
File picture

मेरठ, सहारनपुर, रुड़की और कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से कुल मरने वालों की संख्या 82 हो गई है। उत्तर प्रदेश सरकार के मुताबिक जहरीली शराब से मरने वाले ज्यादातर वे लोग हैं जो उत्तराखंड में एक तेरहवीं संस्कार में शरीक होने गए थे और इन लोगों ने वहीं शराब का सेवन किया। सहारनपुर के अधिकारियों के मुताबिक समारोह में गए लोग वापस आए तो मौत होनी शुरू हुई। अब तक इस मामले में 46 लोगों का पोस्टमॉर्टम हो चुका है जिसमें 36 लोगों की मौत शराब की वजह से बताई जा रही है। वहीं मेरठ में मरने वाले 18 लोग सहारनपुर से लाए गए थे, जिनकी इलाज के दौरान मौत हुई है। आपको बता दें कि ये शराब पीने वाले लोग अधिकतर मजदूर हैं। और सस्ती मिलने के कारण इस तरह की कच्ची या मिलावट वाली शराब पी लेते हैं।

सहारनपुर के जिलाधिकारी ने बताया कि शराब को जांच के लिए लखनऊ लैब भेजा जा रहा है। 405 लीटर अवैध शराब जब्त की गई है। अभी तक की जानकारी में ऐसे संकेत मिले हैं कि शराब को तेज बनाने के लिए रैट पॉइजन का भी इस्तेमाल किया जाता था। ताजा आकड़ो के मुताबिक मेरठ में 18, सहारनपुर में 36, रुड़की में 20 और कुशीनगर में 8 लोगों की मौत हुई है। इस मामले में सरकार ने सहारनपुर और कुशीनगर के जिला आबकारी अधिकारियों समेत 21 को निलंबित कर दिया है। कुशीनगर के तरयासुजान थाना प्रभारी समेत 4 पुलिसकर्मी और 5 आबकारी कर्मचारी, सहारनपुर में नगला थाना प्रभारी समेत 10 पुलिसकर्मी निलंबित किए गए हैं। उत्तराखंड में भी आबकारी के 13 अफसर और 3 पुलिसकर्मी निलंबित किए गए हैं।

शुक्रवार शाम और देर रात यूपी के मुख्य सचिव और बाद में डीजीपी ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों और पुलिस कप्तानों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए निर्देश दिए कि जहरीली शराब के मामले में पूरे जिले में छापेमारी और खोजबीन की जाए। यह अभियान अगले पंद्रह दिनों तक चलेगा जिसमें धरपकड़ के साथ-साथ अवैध शराब की भट्टियों पर छापेमारी की जाएगी। सरकार की तरफ से साफ निर्देश दिए गए हैं कि जिस जिले में लापरवाही होगी वहां के पुलिस कप्तान और जिलाधिकारी को इसका खामियाजा भुगतना होगा। इस अभियान के तहत बस्ती, महराजगंज, देवबंद, गोरखपुर, बांदा, हमीरपुर, चित्रकूट, गाजियाबाद, सहारनपुर, मेरठ, बुलंदशहर, मथुरा समेत दर्जनों जिलों मे एकसाथ आबकारी और पुलिस की छापेमारी चल रही है।