चुनाव आचार संहिता लागू होने के पहले योगी सरकार ने रेवड़ियों की तरह बांटे मलाईदार पद

0
113
योगी सरकार ने आयोगों के अध्यक्ष व सदस्य किए घोषित
File picture

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा चुनाव के ऐलान से पहले सूबे में विभिन्न आयोगों के अध्यक्षों, उपाध्यक्षों और सदस्यों के नामों को मंजूरी देकर राजनीतिक समीकरण साधने की कवायद की है। उत्तर प्रदेश के आवास एवं विकास परिषद के अध्यक्ष से लेकर गन्ना किसान संस्थान और राज्य कर्मचारी सफाई आयोग के सदस्यों के नामों पर मुहर लगी है। योगी सरकार ने रविवार को प्रदेश के विभिन्न बोर्ड व आयोग के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों के नामों को मंजूरी दे दी है। योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के विभिन्न आयोगों में बीजेपी नेताओं के नाम के साथ-साथ सहयोगी दलों ओमप्रकाश राजभर की भारतीय सुहेलदेव पार्टी और अपना दल के नेताओं के नामों को भी तरजीह दी है।

उत्तर प्रदेश होम्योपैथिक मेडिसिन बोर्ड के अध्यक्ष पद पर बीएन सिंह को नियुक्त किया गया है। जबकि सदस्य के के लिए रमाशंकर मिश्रा, राजेंद्र सिंह, पार्थ सारथी शर्मा, जेएन रघुवंशी, शिव प्रसाद त्रिपाठी और डॉ। श्याम नारायण के नामों पर मुहर लगी है। उत्तर प्रदेश बीज विकास निगम के अध्यक्ष के लिए सुल्तानपुर के राणा अजीत प्रताप सिंह और उपाध्यक्ष के लिए कुशीनगर के राजेश्वर सिंह को नियुक्त किया गया है। लाल बहादुर शास्त्री गन्ना किसान संस्थान के अध्यक्ष के लिए नोएडा के रहने वाले नवाब सिंह नागर और उपाध्यक्ष के लिए देवरिया के रहने वाले नीरज शाही के नाम को मंजूरी दी गई है।

उत्तर प्रदेश पशुधन विकास परिषद के लिए सुदामा राजभर और अजय प्रताप सिंह को नियुक्त किया गया है। उत्तर प्रदेश राज्य एकीकरण परिषद के लिए रमाकांत पटेल, सुनील अर्कवंशी और राधिका पटेल को नियुक्त किया है। उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष पद पर हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव और तरुण राठी को उपाध्यक्ष बनाया गया है। उत्तर प्रदेश के प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष (अंशकालिक) पद जयेंद्र प्रताप सिंह राठौर को नियुक्त किया है. जबकि सदस्य के तौर पर राजेंद्र सिंह पाल और भिखारी प्रजापति को नियुक्त किया है. उत्तर प्रदेश मत्स्य विकास निगम के अध्यक्ष के तौर पर रमाकांत निषाद को नियुक्त किया है.

उत्तर प्रदेश लघु उद्योग निगम लि. कानपुर के अध्यक्ष के लिए अरविंद राजभर और उपाध्यक्ष के लिए राकेश गर्ग को नियुक्त किया गया है. वहीं, राज्य सफाई कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष के लिए सुरेंद्र नाथ वाल्मिकी, उपाध्यक्ष के लिए मुन्ना सिंह धानुक और लाल बाबू वाल्मिकी के नाम को मंजूरी दे दी है. सदस्य के तौर पर कमल वाल्मिकी, मनोज वाल्मिकी, छाया देवी और श्यामलाल वाल्मिकी को बनाया गया है. बता दे कि लोकसभा चुनाव के साथ ही आज आंध्र प्रदेश, सिक्किम, ओडिशा अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा हो सकती है. जानकारी के मुताबिक लोकसभा चुनाव अप्रैल और मई में कराए जाएंगे साथ ही मई के तीसरे हफ्ते में वोटों की गिनती होगी.