उत्तर प्रदेश की बोर्ड परीक्षा में नक़ल पर योगी सरकार की नकेल 

56
394
यूपी बोर्ड परीक्षाओ में 10 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने छोड़ी परीक्षा
यूपी बोर्ड परीक्षाओ में 10 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने छोड़ी परीक्षा

उत्तर प्रदेश में इन दिनों हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के बोर्ड एग्जाम चल रहे हैं. इस साल बोर्ड एग्जाम को लेकर एक अलग नजारा देखने को मिला है. छह फरवरी से शुरू हुए बोर्ड परीक्षा में 10 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं ने परीक्षा नहीं दिया जिसका कारण नक़ल को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की सख्ती बताई जा रही है. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुनाव के पहले नकल रहित परीक्षा का वादा किया था. अपने वादे के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार ने नकलचियों पर नकेल कस रखी है, जिसके कारण जो भी छात्र नक़ल के भरोसे थे वह सभी छात्र परीक्षा से दूर भाग रहे हैं.

शनिवार को हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा का पांचवा दिन था और इस दौरान अब तक 10,47,406 छात्र परीक्षा छोड़ चुके है साथ ही 414 नकलची भी पकड़े गए हैं. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के अपर सचिव शिव लाल ने अपने बयां में कहा कि ” हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा में इस साल काफी सख्ती है जिसके मद्देनज़र अब नकलचियों को समझ में आ चुका है कि नकल के भरोसे परीक्षा पास करना नामुमकिन है. यही कारण है कि अब तक भरी मात्रा में छात्र-छात्राओं ने परीक्षा नहीं दिया.” गौरतलब है कि योगी सरकार से पहले कल्याण सिंह ने भी नकल रोकने के लिए सख्त कदम उठाए थे.

Comments are closed.