महिला कर्मचारियों को सड़क पर कुत्ता बनने पर कंपनी ने मजबूर किया

0
66
तेंगझोऊ टारगेट पूरा नहीं होने पर,महिला कर्मचारियों को बनाया

एक चीनी कंपनी ने टारगेट पूरा नहीं कर पाने पर अपने कर्मचारियों से अमानवीय बर्ताव करते हुए उन्हें ‘कुत्ता’ बनाकर सड़क पर उतार दिया. महिला कर्मचारियों को ट्रैफिक के बीच सड़क पर रेंगना पड़ा. घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने सुपरवाइजर को सजा रोकने को कहा जिसके बाद ही कर्मचारियों को रेंगने से रोका जा सका. कंपनी ने जिन कर्मचारियों को ‘कुत्ता’ बनाकर सड़क पर चलवाया उन्हें साल के अंत तक पूरा करने के लिए एक टारगेट दिया गया था. लेकिन वो इस टारगेट को पूरा नहीं कर पाए जिसके बाद उन्हें भारी ट्रैफिक वाली एक सड़क पर इस पोज़िशन में चलने को मजबूर किया गया. घटना का वीडियो सामने आने के बाद विवाद हो गया है.

बतौर रिपोर्ट्स, ब्यूटी कंपनी ने कर्मचारियों के सालाना टार्गेट पूरा नहीं होने पर इस तरीके से सजा देने का ऐलान किया. सड़क पर महिलाओं को रेंगने के दौरान एक पुरुष सुपरवाइजर हाथ में झंडे लेकर आगे-आगे चल रहा था. तेंगझोऊ शहर की इस घटना ने चीन के सोशल मीडिया के अलावा दुनियाभर में बहस छेड़ दी है. घटना के वक्त सड़क से गुजर रहे लोग महिलाओं को रेंगते देखकर दंग रह गए. नियमों के मुताबिक, चीन में किसी भी कंपनी को शारीरिक सजा देने का अधिकार नहीं है. डेली मेल और btime.com के मुताबिक, रेंगने वाली सभी कर्मचारी महिला थीं. इनकी कंपनी ब्यूटी प्रोडक्ट बेचती है. कंपनी के ही कुछ कर्मचारी घटना का वीडियो भी बनाते देखे गए.