सेंसेक्स 850 अंक गिरा, गिरता रुपया-चढ़ते तेल बनी सरकार की मुसीबत

0
45
सेंसेक्स 800 अंक गिरा,गिरता रुपया-चढ़ते तेल बानी सरकार की मुसीबत
File Picture

गुरुवार को भी रुपये की कीमत में रिकॉर्ड गिरावट जारी रही. एक डॉलर के मुकाबले गुरुवार को रुपया 73.70 तक पहुंच गया. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी गहराने के बाद विदेशी निवेशकों की ओर से हुई बिकवाली के चलते भारतीय शेयर बाजार लुढ़क गए है. कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों ने और रुपये में जारी गिरावट ने शेयर बाजार को लाल निशान के नीचे ला दिया है. हालां‍क‍ि सिर्फ रुपया और कच्चे तेल ही नहीं, बल्क‍ि वैश्व‍िक स्तर पर तैयार हो रहे विपरीत हालात भी बाजार में गिरावट के लिए जिम्मेदार हैं. फिलहाल (12.34PM) सेंसेक्स 642.12 अंकों की गिरावट के साथ 35,333.51 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. निफ्टी की रफ्तार भी काफी धीमी हुई है. यह अभी 213 अंक गिरकर कारोबार कर रहा है.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों से लेकर रुपये और सेंसेक्स में आग लगी है. आज सुबह रुपये ने डॉलर के मुकाबले अब तक का सबसे गहरा गोता लगाया. एक डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड 57 पैसे की गिरावट के बाद रुपया 73.91 रुपये पर पहुंच गया. बुधवार को रुपया 43 पैसे गिरकर 73.34 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर बंद हुआ था. रुपये में गिरावट का सिलसिला लगातार बढ़ता जा रहा है. रुपये में जारी इस गिरावट ने बाजार का सेंटीमेंट कमजोर किया है. निवेशक रुपये में निवेश से दूरी बना रहे हैं. बता दें कि रुपया इस साल अभी तक 14 फीसदी तक टूट चुका है. इसी बीच, डॉलर लगातार मजबूत होता जा रहा है. गिरते रुपये के बाद दूसरी बड़ी चुनौती कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों ने बाजार के सामने खड़ी की है.

देश में तेल के मोर्चे पर लगातार महंगाई की मार झेल रहे आम आदमी को एक दिन की राहत आज फिर झटका लगा. पेट्रोल डीजल की कीमतों में आज फिर बढोतरी दर्ज की गई है. इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन की वेबसाइट के मुताबिक राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 15 पैसे और डीजल 20 पैसे प्रतिलीटर महंगा हुआ है. राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 84.00 रुपए प्रति लीटर और डीजल की कीमत 75.45 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गई है. अमेरिका की तरफ से अगले महीने ईरान पर सैंक्शन लगाया जाना है. इससे पहले एक बार फिर कच्चे तेल की कीमतें आसमान पर पहुंचने लगी हैं. बुधवार को ब्रेंट क्रूड 4 साल के सबसे ऊपरी स्तर पर पहुंच गया है. बुधवार को यह $86.74 प्रति बैरल पर पहुंच चुका है.