मोदी सरकार के खिलाफ आधी रात को इंडिया गेट पर राहुल गांधी की हुंकार

0
63
आधी रात को इंडिया गेट पर राहुल गांधी की हुंकार
आधी रात को इंडिया गेट पर राहुल गांधी की हुंकार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीती आधी रात पूरे दल-बल के साथ कांग्रेस दफ्तर 24 अकबर रोड से इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला. राहुल गांधी के साथ इस मार्च में प्रियंका गांधी, रॉबर्ट वाड्रा सहित कांग्रेस के कई दिग्गज नेता समेत भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता भी पहुंचे. मार्च के दौरान राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार महिलाओं को सुरक्षा दे पाने में नाकाम रही है. राहुल गाँधी ने उन्नाव और कठुआ के रेप केस पर सख्त कार्रवाई की मांग की और महिला सुरक्षा के मुद्दे पर सिस्टम की असंवेदनशीलता पर जमकर निशाना साधा.

राहुल गांधी ने उन्नाव केस में बीजेपी सरकार को असंवेदनशील कहा तो पीएम मोदी की चुप्पी पर भी सवाल उठाए. राहुल गांधी ने मार्च के दौरान कहा कि मोदी सरकार का ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का नारा तो ठीक है लेकिन इस समय सबसे ज्यादा हमले बेटियों पर हो रहे हैं, मोदी सरकार को इस दिशा में कड़े कदम उठाने चाहिए ताकि अपराधियों को इससे सबक मिले. राहुल गाँधी के मार्च के दौरान उमड़ी भीड़ से अंदाजा लगाया जा सकता है कि मोदी सरकार के खिलाफ राहुल युवाओं,दलितों, किसानों के मुद्दों को उठाकर उनसे कनेक्शन जोड़ने में सफल दिख रहे है.

राहुल गांधी ने मार्च से पहले ट्वीट किया और कहा कि “इन घटनाओं पर लाखों भारतीयों की तरह मेरा दिल भी दुखी हुआ है. हम महिलाओं को इस हाल में नहीं छोड़ सकते. आइए शांति और इंसाफ के लिए इंडिया गेट पर कैंडल मार्च में हिस्सा लें.” राहुल की इस अपील पर आधी रात को इंडिया गेट पर युवाओं का हुजूम उमड़ पड़ा. उन्नाव-कठुआ की घटना के खिलाफ महिला कांग्रेस ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में विरोध प्रदर्शन किया था. गौरतलब है कि कांग्रेस ने देश भर में 17 अप्रैल को काला दिवस के तौर पर मनाने का एलान किया है.