आतंकी बनने पाकिस्तान गया मीर बना गायक, माँ ने कहा ‘घर लौट आओ बेटा’

0
139
आतंकी बनने पाकिस्तान गया मोहम्मद अल्ताफ मीर बना गायक
File Picture

कोक स्टूडियो का एक गाना ‘हो गुलो’ इन दिनों कश्मीर की घाटियों मे सुर्खियों मे है. चर्चा का कारन यह है कि इस गाने को गाने वाला मोहम्मद अल्ताफ 28 साल पहले, 1990 में आतंकी बनने के लिए अपना घर छोड़ कर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर चला गया था. बताया जाता है कि वे अपने साथ कई युवाओं को भी ले गए थे. मीर वैसे तो आतंकी बनने गए थे लेकिन कोक स्टूडिया पाकिस्तान की ओर से उनका गाना जारी किए जाने के बाद वे एक लोकप्रिय गायक बन गए. उनके जिन्दा होने की खबर से उनके परिवार बहुत खुश है.

मीर से लम्बे समय तक घर से कोई संपर्क न होने के चलते उनके परिजनों ने मान लिया था कि उनकी मौत हो चुकी है. इसी बीच कोक स्टूडियो पाकिस्तान की ओर से उनका गाना जारी किए जाने के बाद उनके जीवित होने की बात सामने आयी. मीर के सुर्खियों में आने के बाद पता चला कि वे कई वर्षों तक रेडियो पाकिस्तान से जुड़े रहे. ऐसे में परिजन उसे घर वापस लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं. मीर की मां जना बेगम ने कहा कि उनके बेटे के जिन्दा होने कि खबर से वह बेहद खुशी है और उम्मीद करती है कि बेटा जल्द ही घर लौट आये.

मोहम्मद अल्ताफ मीर की ओर से दिए गए एक वीडियो इंटरव्यू में मीर ने बताया कि उन्होंने कई दस्तों के साथ आतंकी बनने के लिए बॉर्डर पार किया था. वो दिन में बस कंडक्टरी करते थे और शाम को कपड़ों पर चेन की सिलाई किया करते थे. उन्होंने सूफियाना महफिलों में गाना शुरू कर दिया. वो महफिलों में डफली भी बजाते थे. उन्होंने रेडियो पर हर सप्ताह पांच शो करना शुरू कर दिया. कोक स्टूडियो नए टैलेंट की तलाश कर रहा था तभी एक महिला ने उनका नाम सुझाया और कोक स्टूडियो के प्रोड्यूसरों ने उन्हें काम दिया.