आंध्र प्रदेश: पूर्व मंत्री विवेकानंद रेड्डी की हत्या, सीबीआई जांच की मांग

0
46
आंध्र प्रदेश के पूर्व मंत्री विवेकानंद रेड्डी की हत्या

आंध्र प्रदेश के पूर्व मंत्री विवेकानंद रेड्डी की हत्या. आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाई एस राजशेखर रेड्डी के छोटे भाई वाई एस विवेकानंद रेड्डी की हत्या कर दी गई। विवेकानंद रेड्डी मंत्री भी रह चुके हैं। पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174 (अप्राकृतिक मौत) के तहत मामला दर्ज किया। स्थानीय अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने इस बात की पुष्टि की कि इस मामले में अब सीआरपीसी की धारा 302 लगायी गयी है जो हत्या से जुड़ी है। उनकी पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की जबकि आंध्रप्रदेश सरकार ने इस मौत की जांच के लिए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (सीआईडी) अमित गर्ग की अगुवाई में एक विशेष जांच गठित किया।

वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू उनके चाचा की मौत के लिए जिम्मेदार हैं। उन्होंने पुलीवेंदुला में घटनास्थल का दौरा करने के बाद मौत को ‘राजनीतिक रूप से नीच हरकत’ करार देते हुए कहा कि केवल सीबीआई जांच से सच्चाई सामने आएगी। उन्होंने कहा कि तीसरे पक्ष से ही जांच होने पर न्याय होगा क्योंकि वाईएसआर को राज्य पुलिस पर भरोसा नहीं है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राज्य सरकार विवेकानंद की मौत को प्राकृतिक दिखाने के लिए सबूत गढ़ रही है। बता दे कि वाईएस परिवार में यह तीसरी अप्राकृतिक मौत है।