मध्य प्रदेश: मंदसौर में 7 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म, हैवानियत की हद हुई पार

0
271
मध्य प्रदेश : मंदसौर 7 साल बच्ची साथ दुष्कर्म
मध्य प्रदेश : मंदसौर 7 साल बच्ची साथ दुष्कर्म

मध्य प्रदेश के मंदसौर में स्कूल की छुट्‌टी के बाद 7 साल की बच्ची को किडनैप कर रेप किया गया. बच्ची का ऑपरेशन इंदौर के एमवाय अस्पताल में हुआ जहा डॉक्टर्स ने बच्ची की हालत बेहद गंभीर बताई है. बच्ची की हालत इतनी बुरी थी कि रात में ही डॉक्टरों को उसका ऑपरेशन करना पड़ा. बच्ची के शरीर पर जगह-जगह दरिंदे के दांत के निशान हैं. नाक पर जख्म इतने गहरे हैं कि डॉक्टरों को नेसोगेस्ट्रिक ट्यूब लगानी पड़ी. बच्ची का प्राइवेट पार्ट लहूलुहान है. आंतों को काटकर बाहर एक रास्ता बनाकर प्राइवेट पार्ट्स को ऑपरेट किया गया.

सूत्रों के मुताबिक सात साल की बच्ची से रेप के बाद गला काटकर हत्या की कोशिश भी की गई. रेप के बाद बच्ची को खुली जगह पर फेंक दिया गया, जहां वो रात भर खून से लथपथ हालत में भीगती रही. बच्ची की त्वचा भी गल गई है. रात भर की यातना सहने के बाद लडकी दोपहर में जख्मी हालत में लक्ष्मण दरवाजे तक पहुंची, जहां से उसे अस्पताल भेजा गया. मन जा रहा है कि आरोपी ने बच्ची को अधमरी हालत में मरा समझकर छोड़ दिया था. घटना के बाद मंदसौर में लोग आक्रोशित हैं.

पुलिस ने दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है जिसका नाम इमरान उर्फ भय्यू बताया जा रहा है. आरोपी ने पुलिस को बताया की बच्ची को वह स्कूल से मिठाई खिलाने का झांसा देकर अपने साथ ले गया था. बच्ची से दुष्कर्म के बाद वह उसकी हत्या करना चाहता था. भारी आक्रोश के चलते पुलिस आरोपी इरफान खान को कोर्ट में पेश नहीं कर पाई. घटना को लेकर मुस्लिम समाज की आक्रोशित महिलाओं ने आरोपी को फांसी की सजा दिया जाने के बाद उसे कब्रिस्तान में ना दफन किए जाने की बात कही है.

जनता के बढ़ते आक्रोश को देखते हुए कोर्ट खुद कंट्रोल रूम पहुंची, जहां इरफान को 2 जुलाई तक पुलिस रिमांड में रखे जाने का फैसला हुआ. वहीं, पुलिस का कहना है कि उन्होंने जांच के लिए अफसरों की 15 सदस्यीय टीम बनाई गई है. 20 दिन में चालान पेश कर आरोपी को फांसी की सजा दिलाने की बात कही. फिलहाल इलाके में भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है. उधर घटना से आक्रोशित शहर के बार एसोसिएशन ने यह फैसला किया है कि आरोपी की तरफ से मंदसौर का कोई भी वकील पैरवी नहीं करेगा.

दरअसल मंगलवार शाम मंदसौर के हाफिज कॉलोनी स्थित एक निजी स्कूल में पढ़ने वाली ये बच्ची जब घर नहीं पहुंची तो उसके परिजनों उसे ढूंढते हुए स्कूल पहुंचे. जब बच्ची नहीं मिली तो परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी. जब पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखी तो आरोपी युवक बच्ची के साथ जाता दिखा. बुधवार रात आरोपी इमरान उर्फ भय्यू को जब पुलिस ने गिरफ्तार किया तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. उसने पुलिस को बताया की बच्ची को वह स्कूल से मिठाई खिलाने का झांसा देकर अपने साथ ले गया था. बच्ची से दुष्कर्म के बाद वह उसकी हत्या करना चाहता था.