एमपी: 3 दिन पहले कांग्रेस में शामिल हुए देवेंद्र चौरसिया की हत्या

0
63
एमपी: कांग्रेस में शामिल हुए देवेंद्र चौरसिया की हत्या

मध्य प्रदेश के दमोह में तीन दिन पहले बीएसपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने वाले कद्दावर नेता देवेंद्र चौरसिया की हत्या कर दी गई है। तीन दिन पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ के सामने दमोह में कांग्रेस की सदस्यता लेने वाले देवेंद्र चौरसिया और उनके बेटे अभिषेक हटा में अपने क्रेशर पर थे। तभी कुछ हमलावर उनके क्रेशर पर पहुंचे। देवेंद्र और उनके बेटे के साथ मारपीट के बाद धारधार हथियारों से हमला किया और फरार हो गए। इस जानलेवा हमले के बाद दोनों घायलों को पहले हटा के अस्पताल में लाया गया, जहां प्राथमिक इलाज देकर उन्हें जबलपुर रेफर किया गया। जबलपुर में इलाज मिलने से पहले ही कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया ने दम तोड़ दिया। वहीं, अभिषेक की हालात नाजुक बनी हुई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

घायल कांग्रेस नेता के घायल बेटे अभिषेक के मुताबिक, उन पर हमला करने वाले लोगों में बीएसपी विधायक रामबाई सिंह के पति गोविंद सिंह उनके देवर चंदू सिंह, भतीजा गोलू सिंह और भाई लोकेश पटेल के साथ जिला पंचायत अध्यक्षशिवचरण पटेल के बेटे इंद्रपाल पटेल के साथ सात आठ अन्य लोग थे। इस सनसनीखेज हाई प्रोफाइल मामले के पीछे की वजह कुछ दिनों पूर्व आये जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को बताया जा रहा है। इस अविश्वास प्रस्ताव में देवेंद्र चौरसिया ने अध्यक्ष के खिलाफ काम किया था जबकि बीजेपी का जिला पंचायत अध्यक्ष होने के बाद भी बीएसपी विधायक रामबाई सिंह और उनके परिवार ने अध्यक्ष के समर्थन में काम किया था और यहीं से चौरासिया और बीएसपी विधायक के बीच चुनावी रंजिश चल रही थी।