कावड़ियों ने दिल्ली-लखनऊ नेशनल हाईवे नंबर 24 पर मचाया उपद्रव

0
50
कावड़ियों ने दिल्ली-लखनऊ नेशनल हाईवे नंबर 24 पर मचाया उपद्रव
File Picture

कांवड़ियों का हुड़दंग ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा. अलग-अलग जगहों से उनके उपद्रव की खबरे रोज आने लगी है. दिल्ली के मोतीनगर, यूपी के बुलंदशहर और मुजफ्फरनगर के बाद अब मुरादाबाद में आज कांवड़ियों का तांडव दिखा. कांवड़ियों ने दिल्ली-लखनऊ नेशनल हाईवे नंबर 24 जाम कर रखा है. बताया जा रहा है कि हाईवे पर कांवड़ियों से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली में पिकअप गाड़ी ने टक्कर मार दी थी, हादसे में दो कांवड़िए घायल हो गए हैं. बस फिर क्या था कावड़ियों ने हाईवे को जाम कर दिया और जमकर हंगामा करने लगे.

गौरतलब है कि इस घटना के पहले भी कावड़ियों के उपद्रव कि कई खडसे सामने आयी है. दिल्ली के मोती नगर इलाके में सात अगस्त की शाम को कावड़ियों ने छोटी से बात पर इस कदर उपद्रव किया था कि एक गाड़ी को तोड़फोड़ कर तहस-नहस कर दिया था. जिस वक्त ये वारदात हुई उस समय गाड़ी में एक लड़का और लड़की मौजूद थे, जिन्होंने भागकर अपनी जान बचाई. मुजफ्फरनगर में भी कांवड़ियों की भीड़ ने कानून को अपने हाथ में लेते हुए एक कार की तोड़-फोड़ कर की और उदंडता का परिचय दिया.

कावड़ियों के उपद्रव से आम जनता में इनको लेकर दर का माहौल सा समा गया है. कब कौन सी बात पर ये हमला करदे किसी को इसका अंदाजा भी नहीं लगता. शुक्रवार को यह मामला सुप्रीम कोर्ट में भी उठा जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए पुलिस को इनके साथ सख्ती से निपटने का आदेश दिया. प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए.एम. खानविलकर और न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ की पीठ ने विरोध प्रदर्शन और धार्मिक समूहों के उत्पात और कानून तोड़ने की घटनाओं पर चिंता जताई.