भारत बनाएगा खुद का सुपर कंप्यूटर

1848
3947
india will create super computer
india will create super computer

मोदी के मेक इन इंडिया के तहत भारत अब सुपर कंप्यूटर का निर्माण अपने ही देश में करेगा. 4500 करोड़ रुपये की लगत वाले इस प्रोजेक्ट में त्रिस्तरीय कार्यक्रम के तहत तकनीक पर काम होगा. नेशनल सुपर कम्प्यूटर्स मिशन के तहत शुरुवाती दो चरणों में सुपर कंप्यूटर की डिज़ाइन और सुब सिस्टम के निर्माण का काम किया जायेगा. योजना को सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ़ एडवांस कंप्यूटिंग पुणे क्रियान्वित करेगा. कैबिनेट ने पिछले साल मार्च में ही इसकी मंजूरी दे दी थी.

मिशन के तहत 50 सुपर कंप्यूटर बनाने का लक्ष्य रखा गया है. विज्ञानं व तकनीकी मंत्रालय के वरिष्ठ वैज्ञानिक का कहना है की पहले चरण में पहले चरण में 6 सुपर कंप्यूटर बनाने की योजना है. बाकि के तीन सुपर कम्प्यूटर्स के पार्ट्स विदेश में बनेगा और असेंबल भारत में किया जायेगा.

मंत्रालय के सचिव आशुतोष शर्मा क कहना है कि इस साल के अंत तक इस काम को पूरा कर देने की योजना है. उनका कहना है कि तीसरे चरण तक पूरा सिस्टम भारत में ही बनाना शुरू कर दिया जायेगा. इन् सुपर कम्पूटरो का उपयोग वैज्ञानिक शोध के लिए किया जायेगा. इन् कम्पूटरो को बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय, कानपुर, हैदराबाद और खड़कपुर की आईआईटी के साथ पुणे और बेंगलुरु के संस्थानों को भी उपलब्ध कराया जायेगा.

 

Comments are closed.