गंभीर ने भारी मन से किया क्रिकेट से संन्यास का ऐलान

0
93
गौतम गंभीर ने किया क्रिकेट से संन्यास का ऐलान
File Picture

37 साल के गौतम गंभीर ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया है. गौतम ने दो साल से इंटरनेशनल मैचों से दूर चल रहे, उन्होंने भारत की ओर से अपना आखिरी टेस्ट 2016 में राजकोट में खेला था. उन्होंने 58 टेस्ट मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया और 41.95 की औसत से 4154 रन बनाए. गंभीर ने 147 वनडे इंटरनेशनल में 39.68 की औसत से 5238 रन बनाए. जिसमें 2011 वर्ल्ड कप फाइनल की वो 97 रनों की यादगार पारी है, जिसकी बदौलत भारत ने दूसरी बार वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया था. वनडे में उन्होंने 11 शतकीय पारियां खेलीं. गंभीर ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भी अपनी छाप छोड़ी. उन्होंने 37 मैच में सात अर्धशतकों की मदद से 932 रन बनाए.

गौतम गंभीर ने संन्यास की जानकारी सोशल मीडिया पर दी है. गंभीर ने लिखा, ‘जिंदगी में कड़े फैसले हमेशा भारी मन से लिए जाते हैं. भारी मन से मैं वह फैसला ले रहा हूं, जिसको लेने के ख्याल मात्र से ही मैं जिंदगीभर डरता रहा.’ गंभीर ने कहा, ‘अपने देश के लिए 15 साल से भी अधिक समय तक क्रिकेट खेलने के बाद मैं इस खूबसूरत खेल से अलविदा कहना चाहता हूं.’ आपको यद् दिला दे कि भारत ने गौतम गंभीर के करियर के दौरान दो विश्व कप (टी20 विश्व कप 2007, वनडे विश्व कप 2011 ) जीते. गंभीर ने इन दोनों ही विश्व कप के फाइनल में भारत के टॉप स्कोरर रहे थे. 2007 टी-20 विश्व कप में गौतम गंभीर भारतीय टीम का हिस्सा थे. पूरे टूर्नामेंट में गंभीर ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे.

इंडियन प्रीमयर लीग (आईपीएल) के पहले सत्र में गंभीर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए 534 रन बनाए थे. वह पहले सत्र में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे. शुरुआती दो सत्र में गंभीर ने 1000 रन अपने खाते में जोड़ डाले थे. उनके दमदार प्रदर्शन को देखते हुए शाहरुख खान की फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने 2010 में उन्हें 2.4 मिलियन डॅालर खर्च कर उन्हें अपनी टीम में शामिल किया था. गौतम गंभीर को इस टीम की कमान भी सौप दी गई थी. आईपीएल में भी उन्होंने सफलता का स्वाद चखा और कोलकाता नाइट राइडर्स को 2012 और 2014 में कप्तान के तौर पर चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाई.