पैकेट वाले दूध पर FSSAI ने जारी किये कड़े नियम

0
32
पैकेट वाले दूध पर FSSAI ने जारी किये कड़े नियम
File picture

पैकेट वाले दूध पर FSSAI ने कड़े नियम जारी किए है। नए नियमो के मुताबिक डेयरी प्रदूषित इलाकों से दूर हो, डेयरी में काम करने वाले लोगों की स्वास्थ्य जांच होनी चाहिए, दूध इकट्ठा करते समय हाइजिन का खयाल रखा जाए। नए नियमो के मुताबिक कंपनियों को तय करना होगा कि गाय या भैंस के चारे में ज्यादा पेस्टीसाईड का इस्तेमाल नहीं किया गया हो। साथ ही नए नियम के अनुसार रॉ दूध को 4 घंटे के अंदर किसान से प्रोसेसिंग यूनिट तक ले जाया जाना चाहिए। दूध की पैकैजिंग फूड ग्रेड मटैरियल में ही होना चाहिए। कंपनी दूध के हर पैकेट को 24 घंटे में ट्रेस करने की व्यवस्था बनाए।

आपको बता दें कि पिछले साल जारी हुई एक रिपोर्ट में कहा गया है कि जो दूध बिक रहा है, उसमें से 68।7 फीसदी दूध और उससे बनी चीजें मिलावटी हैं। यह दूध FSSAI के मानकों पर खरा नहीं उतरता है। सर्वे के मुताबिक दूध की पैकिंग करते समय सफाई का ध्यान नहीं रखा जाता। दूध में डिटरजेंट मिलाने के कई मामले सामने आए हैं। यह मिलावट लोगों की जान ले सकती है या उन्हें अपाहिज कर सकती है। WHO का कहना है कि अगर यह मिलावट बंद नहीं हुई तो 2025 तक 87 फीसदी भारतीयों को कैंसर हो हो सकता है। दूध और इससे बने प्रोडक्ट्रस की खराब क्वालिटी से चिंतित FSSAI ने कड़े मापदंड बनाये है।