चुनाव आयोग की हिदायत का बीजेपी पर कोई असर नहीं, नहीं हटे पोस्टर

0
30
चुनाव अभियान में सैनिक की फोटो का इस्तेमाल न करें

राजनीतिक दलों द्वारा सुरक्षा बलों के जवानों की फोटो के इस्तेमाल को लेकर बहस छिड़ी हुई है. शनिवार को चुनाव आयोग की हिदायत के बावजूद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सड़क पर अब भी राजनीतिक पोस्टर लगा है जिसमें वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का कैरीकेचर बना हुआ है. बता दें कि चुनाव आयोग ने शनिवार को राजनीतिक दलों के लिए एक एडवाइजरी जारी की. इसमें कहा गया है कि सुरक्षा बल देश की सीमाओं, क्षेत्र और पूरे राजनीतिक तंत्र के प्रहरी हैं. लोकतंत्र में उनकी भूमिका निष्पक्ष और गैर राजनीतिक है. इसी वजह से जरूरी है कि चुनाव प्रचार में सुरक्षा बलों का जिक्र करते हुए राजनीतिक दल और राजनेता सावधानी बरतें. आयोग ने एक राजनीतिक दल के पोस्टर में वायु सेना विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर के कथित इस्तेमाल पर संज्ञान लेते हुए ये फैसला किया है.

दरअसल साउथ दिल्ली के किशनगढ़ बस स्टैंड के करीब एक पोल पर राजनीतिक पोस्टर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ. इस पोस्टर पर अभिनंदन का कैरीकेचर बनाया हुआ है जिस पर साउथ एमसीडी की पूर्व मेयर सरिता चौधरी के साथ वसंत कुंज के निगम पार्षद का भी फोटो है. माना जा रहा है कि सविता ने ही ये पोस्टर लगाए हैं. आपको बता दे कि चुनाव आयोग की वेबसाइट पर 2 मार्च को अपलोड किए गए आदर्श आचार संहिता पर मैनुअल में भी इसका जिक्र है. मैनुअल में लिखा गया है, ‘रक्षा मंत्रालय ने चुनाव आयोग के संज्ञान में लाया गया कि कुछ राजनीतिक दल, नेता और उम्मीदवार अपने चुनाव प्रचार के दौरान विज्ञापनों में रक्षा कर्मियों की तस्वीरों का इस्तेमाल कर रहे हैं. चुनाव आयोग से इस संबंध में उपयुक्त निर्देश जारी करने का अनुरोध किया गया था. ‘