दिल्ली हाईकोर्ट ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर सुनवाई से किया इंकार

0
48
दिल्ली हाईकोर्ट पेट्रोल-डीजल बढ़ती कीमतों पर सुनवाई से किया इंकार
File Picture

दिल्ली हाईकोर्ट ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई से इंकार कर दिया है. कोर्ट ने ये भी कहा कि ये बड़े आर्थिक मुद्दे हैं और हमें लगता है कि इनसे कोर्ट को खुद को दूर रखना चाहिए. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान सराकर को भी सुझाव दिया है. कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा कि वो चार हफ्ते के अंदर याचिकाकर्ता की मांग पर गौर करे और देखे कि क्या हो सकता है. आपको बता दें कि देश में लगातार बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों में मंगलवार को भी इजाफा जारी रहा था. हालाकि पेट्रोल और डीजल के दामों में आज कोई बदलाव नहीं हुआ है. देश में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों के कारण कई जगह सर्कार के खिलाफ विरोध भी देखने को मिल रहा है.

आपको बता दे कि दिल्ली की रहने वाली पूजा महाजन ने याचिका दायर कर हाईकोर्ट से केंद्र सरकार को निर्देश देने को कहा था कि वह पेट्रोल और डीजल को आवश्यक वस्तुएं मानें और पेट्रोलियम उत्पादों के लिए उचित मूल्य तय करें. याचिका में कहा गया है कि कर्नाटक के चुनाव के दौरान करीबन 20 दिनों तक पेट्रोल और डीजल की कीमतें नहीं बढ़ी थीं. ऐसे में केंद्र सरकार की दलील की पेट्रोल और डीजल की कीमतें उनके नियंत्रण में नहीं है और उनका कोई हस्तक्षेप नहीं है यह पूरी तरह से बेबुनियाद है. याचिका में आरोप लगाया गया था कि सरकार ने तेल उत्पादन कंपनियों (ओएमसी) को पेट्रोल और डीजल की कीमतें मनमाने ढंग से बढ़ाने की परोक्ष रूप से मंजूरी दे रखी है.