ड्यूटी पर लौटा देश के लिए आतंकियों की 9 गोलिया खाकर भी डटा रहने वाला चेतन चीता

0
33
ड्यूटी पर लौटा देश के लिए आतंकियों के 9 गोली खाने वाला चीता
ड्यूटी पर लौटा देश के लिए आतंकियों के 9 गोली खाने वाला चीता

करीब एक साल पहले 14 फरवरी 2017 को जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा के हाजिन में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ के दौरान हुए भीषण गोलीबारी में दुश्मन की 9 गोलिया खा कर भी मौके पर डटे रहने वाले CRPF कमांडेंट चेतन चीता दोबारा ड्यूटी पर लौट आए हैं. उन्होंने बीते हफ्ते दिल्ली में सीआरपीएफ हेडक्वार्टर में ड्यूटी संभाली है. एक समाचार चैनल से बात करते हुए उन्होंने दोबारा अपनी ड्यूटी संभालने पर ख़ुशी जाहिर करते हुए खुद को गौरवान्वित बताया, साथ ही उन्होंने कहा कि वर्दी के बिना मेरी जिंदगी अधूरी है.

दरअसल 14 फरवरी 2017 को जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा के हाजिन छेत्र में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में गोलीबारी के दौरान सीआरपीएफ की 45वीं बटालियन के कमांडेंट चेतन चीता को उनके पेट, हाथ, हिप्स, आंख और दिमाग समेत कई अंगों में 9 गोलियां लगी थी. इलाज के दौरान डेढ़ महीने तक चीता कोमा में रहे थे, बाद उनको होश आया था. देश के लिए खुद के जान की फिक्र किये बिना आतंकियों के सामने डटे रहने के लिए उन्हें स्वतंत्रता दिवस के दिन दूसरे सबसे बड़े वीरता पदक ‘कीर्ति चक्र’ से सम्मानित किया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here