कांग्रेस की चेतावनी: अधिकारियों पर हमारी नज़र, ध्यान रखें हम सत्ता में भी आ सकते हैं

0
86
कैग रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस ने अधिकारियों को दी चेतावनी
File picture

कैग रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस ने अधिकारियों को दी चेतावनी. कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने राफेल डील को लेकर सीएजी राजीव महर्षि पर गंभीर आरोप लगाया। सिब्बल ने कहा कि अगर इस रिपोर्ट को राजीव महर्षि पेश करते हैं तो यह एक और बड़ा घोटाला होगा। सिब्बल ने कहा, ‘हम ऐसे अधिकारियों पर नजर रखेंगे जो ज्यादा उत्साही हैं और पीएम मोदी के प्रति अपनी वफादारी साबित करने की कोशिश कर रहे हैं। बता दें, वित्त सचिव के रूप में सेवा देने के बाद राजीव महर्षि को अगस्त, 2015 में केंद्रीय गृह सचिव के रूप में नियुक्त किया गया। पिछले साल सितंबर में महर्षि ने सीएजी के रूप में कार्यभार संभाला था। सिब्बल ने कहा कि उन्हें (राजीव महर्षि) को इस रिपोर्ट को पेश करने से बचना चाहिए।

दरअसल पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने रविवार को मोदी सरकार के सभी सरकारी अधिकारियों को चेतावनी दी। कांग्रेस ने महर्षि से कहा कि आप 29 अक्टूबर 2014 से 30 अगस्त 2015 तक वित्त सचिव थे। इसका मतलब है कि 58,000 करोड़ रुपये की लागत से 36 राफेल विमानों की खरीद की प्रधानमंत्री द्वारा एकतरफा घोषणा के समय आप वित्त सचिव थे। वित्त मंत्रालय के प्रतिनिधि यानी कॉस्ट अकाउंट्स सर्विस के सदस्य और वित्तीय सलाहकार भारतीय वार्ता टीम का हिस्सा थे। इसलिए, आप राफेल सौदे की बातचीत में भी शामिल थे। इसलिए आपको राफेल डिल की रिपोर्ट को पेश करने से बचना चाहिए।

जाने-माने वेटरन एक्टर अमोल पालेकर की स्पीच बीच में रोक दिए जाने के मुद्दे पर सिब्बल ने कहा, ‘किसी के खिलाफ देशद्रोह हो जाता है, किसी को बोलने नहीं दिया जाता है। ये तो नया भारत है न। देश बदल रहा है। पीएम मोदी तो यही अच्छे दिन के बारे में बात करते थे।’ गौरतलब है कि अमोल पालेकर शनिवार को एक सार्वजनिक मंच से बोल रहे थे। उन्होंने जैसे ही केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के एक फैसले की आलोचना करनी शुरू की, कार्यक्रम की मॉडरेटर ने उन्हें बोलने से ही रोक दिया। उन्हें अपने पूरे भाषण के दौरान कई बार रोका गया और स्पीच को जल्द से जल्द खत्म करने के लिए भी कहा गया।