भारतीय सीमा में 4 KM तक तीन बार घुसे चीनी सैनिक, ITBP के विरोध पर लौटे वापस

0
40
भारतीय सीमा में 4KM तक तीन बार घुसे चीनी सैनिक
File Picture

भारत की चेतावनी के बावजूद का चीन का अड़ियल रवैया बदलने का नाम नहीं ले रहा है. चीनी सैनिक लगातार भारतीय सीमा में घुसपैठ करते हैं. एक बार फिर चीन ने भारत की सरज़मीं में घुसने की हिमाकत की है. चीन लगातार दोस्ती का दावा करता है लेकिन उसकी चाल कुछ और ही बयां करती है. आजतक के हाथ लगी ITBP की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने अगस्त के महीने में तीन बार भारतीय सरज़मीं में घुसपैठ की है. सूत्रों ने जानकारी दी है कि अगस्त माह के दौरान चीन की सेना पीपल्स लिबरेशन आर्मी ने सेंट्रल सेक्टर में वास्तविक नियंत्रण रेखा को तीन बार पार किया, जिसमें उत्तराखंड के बाराहोती में वे चार किलोमीटर तक भीतर आ गए थे.

रिपोर्ट की मानें, तो जब 15 अगस्त को हमारा देश आज़ादी की सालगिरह मना रहा था तब चीनी सैनिक भारतीय सीमा में घुसपैठ कर रहे थे. ITBP के कड़े विरोध के बाद चीन के सैनिक और उनके नागरिक वापस गए थे. सूत्रों के हवाले से ख़बर मिली है कि चीनी सेना ने 6 अगस्त, 14 अगस्त और 15 अगस्त को चीन के सैनिक और उनके नागरिको ने बाराहोती के रिमखिम पोस्ट के नज़दीक घुसपैठ की. इस दौरान चीन की सेना PLA के सैनिक और कुछ सिविलियन, बाराहोती की रिमखिम पोस्ट के नज़दीक दिखाई दिए. बताया जा रहा है कि चीनी सेना 400 मीटर से लेकर 3.5 किलोमीटर तक अंदर घुस गए.

आपको बता दे कि भारत और चीन के बीच पिछले काफी समय से सीमा पर विवाद जारी है. चीन और भारत के बीच इससे पहले डोकलाम को लेकर विवाद हो चुका है. जहां पर 72 दिनों के लिए भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने थीं. हालांकि, इस विवाद को सुलझा लिया गया था. गौरतलब है कि अरुणाचल प्रदेश के किबितू इलाके से सटी सीमा चीन का टाटू कैंप और न्यू टाटू कैंप है. यहां पर चीनी सेना ने कंक्रीट की मजबूत की बिल्डिंग, फायरिंग रेंज और हेलीपैड साफ नजर आते हैं. यहां तक चीन ने पक्की सड़क भी बनाई हुई है. इधर भारत के अंदर चीन की तुलना में बुनियादी ढांचा अभी इतना मज़बूत नहीं हुआ है. ना तो सड़क पक्की है और ना ही पुख्ता संचार तंत्र.