बिहार: शराबबंदी की खुली पोल, पुलिस बैरक में बिकती थी शराब

0
71
बिहार: शराबबंदी की खुली पोल,पुलिस बैरक में बिकती थी शराब
File picture

बिहार: शराबबंदी की खुली पोल,पुलिस बैरक में बिकती थी शराब, बिहार में नितीश सरकार ने पूर्ण शराबबंदी कर रखी है। लेकिन कई बार ऐसी घटनाये सामने आ रही है जो शराबबंदी के सफल होने के दावों पर सवालिया निशान खड़े करते है। बिहार के बेगूसराय में पांच पुलिसकर्मियों को पांच कार्टन विदेशी शराब के साथ गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि ये पुलिस बैरक में शराब बेचते थे। बेगूसराय मुफस्सिल थाना के प्रभारी आरबी प्रसाद ने सोमवार को बताया कि पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार के निर्देश पर रविवार की रात पुलिस बैरक में छापेमारी कर पांच कार्टन शराब बरामद की गई है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों छापेमारी के दौरान क्षेत्र से अवैध शराब बरामद की गई थी, जिसे इन पुलिसकर्मियों ने बैरक में छिपाकर रख लिया था और उसकी बिक्री कर रहे थे।

बताया जा रहा है कि गिरफ्तार पुसिकर्मियों में स्पेशल अग्जिलरी पुलिस (सैप) जवान (कांस्टेबल) रवींद्र कुमार, राजदेव सिंह और होमगार्ड जवान सुरेंद्र कुमार, प्रमोद कुमार सिंह और दीपक कुमार सिंह शामिल हैं। पिछले दिनों मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर थाना के प्रभारी आवास से भी बड़ी मात्रा में शराब बरामद की गई थी। पूर्ण प्रतिबंध के बावजूद खाकी वर्दीधारियों की यह हिमाकत पुलिस प्रशासन पर कई सवाल खड़े करती है। बता दे कि बिहार में नितीश सरकार के सत्ता में आने के बाद उन्होंने पूरे राज्य में पूर्ण शराबबंदी कर रखी है। साथ ही शराबबंदी के सफल होने कि दावे भी करती है लेकिन ताज़ा घटनाओ को देखकर नहीं लगता कि शराबबंदी सफल हुई है और नाही बिहार में क्राइम रेट कम हुआ है।