बाड़ेमर: घायल मरने से पहले तड़पता रहा, मदद के बजाय सेल्फी लेते रहे लोग

0
78
बाड़ेमर:घायल मरने से पहले तड़पता रहा,मदद बजाय सेल्फी लेते लोग
तड़पते घायल व्यक्ति की मदद के बजाय सेल्फी लेता युवक

जयपुर में बाड़ेमर के चौहटन इलाके में एक स्कूल बस और बाइक की टक्कर में तीन युवक जख्मी हो गए. दो की तो फौरन मौत हो गई लेकिन एक युवक सड़क पर तड़पता रहा, मदद की भीख मांगता रहा. लेकिन वहा मौजूद किसी भी व्यक्ति ने उसकी मदद के लिए आगे कदम नहीं बढ़ाया, उल्टा वहा मौजूद कुछ लोग घटना का वीडियो बनाने लगे. एक बेरहम इंसान ने तो असंवेदनशीलता की सारी हदें तोड़ते हुए मौके पर सेल्फी लेकर और वीडियो बनाना शुरू कर दिया. ऐसे लोगो की हरकत मन में एक ही सवाल पैदा करती है कि क्या एक समाज के तौर पर हम बिल्कुल असंवेदनशील हो चुके हैं?

लोगो के संवेदनहीनता के नतीजतन, थोड़ी देर बाद ही इलाज के बिना जख्मी युवक ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया. उस व्यक्ति की मौत अपने पीछे एक सवाल छोड़ गया कि जब इस जख्मी शख्स को फौरन अस्पताल ले जाने की जरूरत थी तो वहा मौजूद लोग मदद करने की बजाए वीडियो क्यों बनाने लगे. यह घटना समाज का घिनौना चेहरा सबके सामने लाकर रख दिया है. आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने भी सड़क हादसे में जख्मी के मददगार को सुरक्षा की गारंटी दी है फिर भी लोग मदद करने के बजाय सेल्फी लेना उचित समझते है भले ही सामने पड़ा घायल इंसान तड़प तड़प कर मर जाये.