पूजा शकुन पांडेय को गिरफ्तार करने में नाकाम यूपी पुलिस

0
78
गाँधीजी के पोस्टर को गोली मारने मामले में मामला दर्ज

अलीगढ में महात्मा गांधी की हत्या का सीन रिक्रिएट करने के मामले में 2 लोगों को हिरासत में लिया गया है। अलीगढ़ के एएसपी नीरज जादौन ने बताया कि इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है जिसमें से 8 लोगों को नामजद अभियुक्त, जबकि चार अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दायर किया गया है। एएसपी नीरज जादौन ने बताया, ”हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने नाथुराम गोडसे का महिमामंडन किया और इस दौरान महात्मा गांधी के फोटो को गोली मारी। संबंधित धाराओं के तहत 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है साथ ही दो लोगों को हिरासत में लिया गया है।”

बता दे कि गिरफ्तार किये गए लोगो में महासभा के दो कार्यकर्ताओं मनोज और अभिषेक शामिल है। लेकिन अलीगढ़ में हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव डॉ। पूजा शकुन पांडेय जिन्होंने मीडिया के सामने गांधीजी के पोस्टर को गोली मारी उन्हें पकड़ने में पुलिस पूरी तरह से नाकाम है। महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर उनकी हत्या का सीन रिक्रिएट करने वाली हिंदू महासभा की नेता पूजा शकुन पांडे बीजेपी के दिग्गज नेताओं के साथ दिख चुकी है। अपने फेसबुक पोस्ट में पूजा शकुन पांडे मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री उमा भारती के साथ भी नजर आ चुकी है।

इस घटना के बाद पूजा शकुन ने मीडिया को बताया कि उसके संगठन ने हत्या की ‘रिक्रिएशन’ करके नई परंपरा की शुरुआत की है। और अब दशहरा पर राक्षस राजा रावण के उन्मूलन के समान इसका अभ्यास किया जाएगा। नाथूराम गोडसे के सम्मान में हिंदू महासभा महात्मा गांधी पुण्यतिथि को शौर्य दिवस के रूप में मनाती है। बता दें कि अखिल भारत हिंदू महासभा ने मेरठ में हिंदुओं से जुड़े मामलों की सुनवाई के लिए संविधान को ताक पर रखकर न्यायपीठ की स्थापना की है। न्यायपीठ की चीफ जस्टिस की कुर्सी पर डॉ पूजा शकुन पांडेय की नियुक्ति की गई थी जो खुद को सन्यासिनी और गुजरात द्वारिका स्थित मुरली आश्रम की महन्त बताती हैं।

दरअसल, पूरे देश में बुधवार को शहीद दिवस के मौके पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी गई। लेकिन अलीगढ़ में अखिल भारत हिंदू महासभा के नेताओं ने शर्मनाक हरकत को अंजाम दिया। महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे ने बकायदा मीडियाकर्मियों के सामने बापू की हत्या के फोटो सेशन किया। इस दौरान बापू के पुतले को नकली पिस्टल से तीन गोलियां मारी गईं जिसके बाद पोस्टर से गांधीजी का खून बहते भी दिखाया गया और नाथूराम गोडसे अमर रहे के नारे लगाए गए। पूजा शकुन पांडेय ने गांधी वध के रूप में मनाते हुए गोडसे की तस्वीर पर पहले पुष्पांजलि दी गई, और मिठाईयां भी बांटी।

गौरतलब है कि एफआईआर में हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन और उनके पति अशोक पांडे सहित 13 लोगों का नाम लिखा गया है। लेकिन पूजा शकुन को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। सीनियर पुलिस अधिकारी आकाश कुल्हारी ने कहा कि महात्मा गांधी की 71वीं पूण्यतिथि पर हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने महात्मा गांधी के पुतले को गोली मारी। यह घटना शहर के नौरंगाबाद के पास में एक घर की है। बाद में यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है। लेकिन अभी तक मामले में सिर्फ दो गिरफ़्तारी हो सकी है।