अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: बिचौलिए मिशेल भारत लाया गया, पटियाला हाउस कोर्ट में होगी पेशी

0
47
अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: बिचौलिए मिशेल भारत लाया गया

अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे में कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल जेम्स को संयुक्त अरब अमीरात से प्रत्यर्पित करके मंगलवार देर रात भारत लाया गया. यूएई से प्रत्यर्पण के बाद CBI मिशेल को देर रात दिल्ली लेकर पहुंची. सीबीआई मिशेल को सीधे हेडक्वार्टर लेकर पहुंची. सीबीआई मिशेल से पूछताछ की तैयारी कर रही है. आज मिशेल को सीबीआई द्वारा विशेष अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा. सीबीआई 14 दिन की रिमांड मांगेगी. बताया जा रहा है कि सीबीआई ने एक लिस्ट बनाई है इसमें उन लोगों के नाम हैं जिन्हें मिशेल ने रिश्वत दी थी. इसी लिस्ट के आधार पर सीबीआई पूछताछ करेगी.

बता दे कि दुबई सरकार ने मिशेल के प्रत्यर्पण को पहले ही मंजूरी दे दी. पिछले महीने ही दुबई की अदालत ने भी निचली अदालत का फैसला बरकरार रखते हुए ये माना था कि मिशेल का भारत प्रत्यर्पण किया जा सकता है. कोर्ट ने मिशेल के वकीलों की गुहार खारिज करते हुए ये आदेश दिया था. जिसके बाद अब उसे भारत लाया गया है. एजेंसी के संयुक्त निदेशक साई मनोहर के नेतृत्व में अधिकारियों की एक टीम मिशेल को लाने के लिए दुबई गई थी. प्रत्यर्पण की प्रक्रिया पूरी करने के बाद मिशेल को भारत वापस लाया गया. मिशेल जांच के लिए वांछित था लेकिन वह फरार हो गया और जांच में शामिल होने से बच रहा था.

सीबीआई के मुताबिक मिशेल पर इस डील में सह-आरोपियों के साथ मिलकर साजिश रचने का आरोप है. इसके तहत अधिकारियों ने वीवीआईपी हेलिकॉप्टर की उड़ान ऊंचाई क्षमता 6000 मीटर से घटाकर 4500 मीटर कर अपने सरकारी पद का दुरुपयोग किया. ईडी ने मिशेल के खिलाफ जून, 2016 में दाखिल अपने चार्जशीट में कहा था कि मिशेल को अगस्ता वेस्टलैंड से 225 करोड़ रुपये मिले थे. चार्जशीट के मुताबिक वह राशि और कुछ नहीं बल्कि कंपनी की ओर से दी गयी रिश्वत थी. आपको यद् दिला दे कि मिशेल का एक नोट सामने आया था इसमें कई नाम कोड वर्ड्स में लिखे थे और उनके आगे घूस की रकम लिखी थी.