केरल में बाढ़ से 357 लोगों की मौत, अन्य राज्यों ने बढ़ाया मदद का हाथ

0
314
केरल में बाढ़ से 357 लोगों की मौत

केरल में आई बाढ़ में 357 लोगों की मौत हो गई है. केरल में भारी बारिश, लैंडस्लाइड और बाढ़ की वजह से स्थिति हर बीतते दिन के साथ स्थिति और खराब होती जा रही है. सेना, एनडीआरएफ कर्मियों, मछुआरों और स्थानीय लोग अपने घरों की छतों और निर्जन घरों में फंसे हजारों लोगों को बचाने के काम में जुटे हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने केरल में भीषण बाढ़ के बाद हुई भारी तबाही को लेकर दुख जताया है. केरल पिछले 100 वर्षों में आई सबसे भयावह बाढ़ का सामना कर रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल की स्थिति का जायजा लेने के लिए हवाई दौरा भी किया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने 500 करोड़ की अतिरिक्त राशि भी केरल के लिए दी है. इससे पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने 100 करोड़ की राशि देने की बात कही थी.

केंद्र सरकार से लेकर तमाम राज्य सरकारें तबाही के इस वक्त में केरल की मदद के लिए आगे आई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाढ़ प्रभावित केरल को तत्काल 500 करोड़ रुपये की सहायता देने की घोषणा की है. पीएम मोदी ने सभी मृतकों के परिजन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से 2-2 लाख रुपये की सहायता राशि और गंभीर रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपये देने की भी घोषणा की. कई राज्यों ने भी केरल को मदद राशि देने का ऐलान किया है. तेलंगाना ने 25 करोड़, महाराष्ट्र ने 20 करोड़, उत्तर प्रदेश ने 15 करोड़, उत्तराखंड ने 5 करोड़, तमिलनाडू ने 5 करोड़, गुजरात ने 10 करोड़, झारखंड ने 5 करोड़, मध्य प्रदेश ने 10 करोड़, ओडिशा ने 5 करोड़, बिहार ने 10 करोड़, हरियाणा ने 10 करोड़, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने 2 करोड़ रुपये की मदद राशि देने का ऐलान किया है.