तीन महीने बाद जेटली पहुंचे राज्यसभा, सभापति ने दी चेतावनी

0
32
तीन महीने बाद जेटली पहुंचे राज्यसभा सभापति ने दी चेतावनी
किडनी ट्रांसप्लांट के बाद पहली बार संसद आए जेटली

राज्यसभा के उपसभापति चुनाव में वोटिंग में एनडीए उम्मीदवार जेडीयू नेता हरिवंश को 125 वोट मिले वहीं विपक्ष के उम्मीदवार बीके हरिप्रसाद को 105 वोट मिले. तीन महीने बाद सदन में पहुंचे जेटली ने वोटिंग में भी हिस्सा लिया. जेटली ने अप्रैल से सदन में आना बंद कर दिया था. केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली किडनी प्रत्यारोपण के बाद गुरुवार को पहली बार राज्यसभा आये. जेटली उच्च सदन के नेता भी हैं. 14 मई को उनका किडनी ट्रांसप्लांट का ऑपरेशन भी हुआ. बताय जा रहा है कि जेटली 16 अगस्त से वित्त मंत्रालय का काम काज संभालेंगे.

डॉक्टरों ने जेटली को यह सलाह दी है कि वह लोगों से मेलजोल कम से कम रखें. हाल में हुई किडनी ट्रांसप्लांट सर्जरी की वजह से उन्हें अपने को काफी बचाकर रखना है.इसकी वजह से वह करीब तीन महीने से घर में ही बैठे थे. यही कारण है कि जेटली से वित्तमंत्रालय का प्रभार लेकर रेल मंत्री पीयूष गोयल को दे दिया गया था. यहां तक कि राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू को पहले ही सदन में यह चेतावनी देनी पड़ी कि अरुण जेटली को कोई छूने या उनके करीब जाने की कोशिश न करे, क्योंकि अभी उनकी सेहत सुधार के क्रम में ही है.

हरिवंश सिंह की जीत और उन्हें राज्यसभा का उपसभापति चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी बधाई देने के लिए उनकी सीट की तरफ गए और उन्हें गर्मजोशी से हाथ मिलाकर बधाई दी. उसके बाद वह लौटकर अपनी सीट की ओर आए और बगल में बैठे नेता सदन अरुण जेटली की तरफ हाथ बढ़ाया, लेकिन अरुण जेटली ने मुस्कराते हुए संकेत दिया कि वह हाथ नहीं मिला सकते. उन्होंने तत्काल हाथ जोड़कर नमस्कार कर लिया, जिसका पीएम मोदी ने जवाब भी दिया.jaitley will take charge of finance ministry again after kidney transplant

जेटली की सेहत को लेकर प्रधानमंत्री ने आज सदन में कहा कि हमारे लिए खुशी की बात है कि स्वास्थ्य लाभ के बाद आज अरुण जी भी हमारे साथ हैं. सत्तारूढ़ एनडीए के नेताओं के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी जैसे विपक्ष के वरिष्ठ नेताओं ने भी मेज थपथपा कर अरुण जेटली का स्वागत किया. गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मैं सदन के नेता अरुण जेटली के स्वस्थ होने बाद सदन में आने पर बधाई देता हूं. मुझे आशा है कि आज तो वोटिंग के लिए आए हैं लेकिन इन्हें अभी कुछ दिन और आराम करना चाहिए.