केरल में बारिश एवं भूस्खलन के चलते 22 लोगों की मौत

0
220
केरल बारिश एवं भूस्खलन के चलते 22 लोगों की मौत
File Picture

केरल राज्य आपात अभियान केन्द्र के अनुसार बीती रात से भारी बारिश एवं भूस्खलन के चलते 22 लोगों की जान चली गयी है. यहां आज सुबह से राज्य में भारी बारिश और भूस्खलन की घटनाये हो रही है. गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार इनमें इडुक्की जिले में 11, मलप्पुरम जिले में पांच, वायनाड में तीन, कन्नूर में दो और कोझिकोड में एक मारे गये. राहत एवं बचाव अभियान में मदद के लिये राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की चार टीमें चेन्नई से केरल के लिये रवाना की गयी हैं. प्रत्येक टीम में 45 कर्मी हैं.

पेरियार नदी में बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड ने हवाई अड्डा क्षेत्र के जलमग्न होने की आशंका के तहत यहां विमानों की लैंडिंग रोक दी गई. सीआईएएल नदी के निकट स्थित है. हालांकि दो घंटे के बाद एयरपोर्ट पर हवाई सेवा फिर से बहाल कर दी गई. कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड (सीआईएएल) के प्रवक्ता ने बताया कि हालत में सुधार होने पर हम आज दोपहर तीन बजकर पांच मिनट से सभी सेवा बहाल कर रहे हैं.

केन्द्र सरकार का अंतर-मंत्रालयी केन्द्रीय दल भी केरल में प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहा है. इधर चेन्नई से NDRF की चार टीमें केरल के लिए रवाना हो चुकी हैं. मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने आपात बैठक बुलाई है. अब राज्य में बचाव अभियान में सेना को उतार दिया गया है. बारिश के कारण कई ट्रेनें भी प्रभावित हुई हैं. कई जगह रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गया है. कुछ रूट पर ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. इडुक्की के अडीमाली शहर में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई. यहां पुलिस और स्थानीय लोगों ने मलबे से दो लोगों को जिंदा बाहर निकाला.